कन्यादान

जेब मे रखा पेन कोई मांग ले ,
हम देने मे हिचकीचाते है ।
ये बेटी वाले क्या जिगर रखते है.....
जो कलेजे का टुकड़ा सौंप देते हैं....

Comments

Popular posts from this blog

अबिगत गति कछु कहति न आवै

निसिदिन बरसत नैन हमारे।